Thursday, December 23, 2010

सम्मान समारोह, जबलपुर

चार मित्रों  राजेश पाठक,गिरीश बिल्लोरे,बसंत मिश्रा,डा०विजय तिवारी किसलय, ने  विगत तेरह  वर्ष पूर्व एक कल्पना की थी. वो यह कि हम स्वर्गीय हीरा लाल गुप्त मधुकर जी स्मृति  में उनके समकालीन व्यक्तित्वों को सादर आमंत्रित कर उनसे सीमित-साधनों के दौर में होने वाली सफ़ल एवम सुफ़ल साहित्य-साधना एवम पत्रकारिता के अनकहे बिन्दुओं से परिचित होंगे और बस एक कार्यक्रम की कल्पना को आकार दिया मधुकर जी के के जन्म दिवस पर “ स्वर्गीय हीरालाल गुप्त स्मृति समारोह ”के रूप में “और अगले ही वर्ष से शुरु हो गया यह सिलसिला.

बस विनम्र भाव से अपनी बुजुर्ग पीढ़ी से आशीर्वाद लेते ये युवा प्रति वर्ष स्वर्गीय हीरा लाल गुप्त मधुकर जी के समकालीन  बुजुर्ग पत्रकार को तथा एक युवा विचारवान सृजन धर्मी पत्रकार को सम्मानित करने लगे. उनसे समझने लगे सीमित साधनों में असीमित सफ़लता के रहस्य .

इसी क्रम में 2008 से  अंतरज़ाल के ज़रिये लेखन करने वाले लेखकों  की तलाश की गई. जबलपुर के श्रेष्ठ ब्लागर के रूप में 2009 श्री महेंद्र मिश्रा को सम्मानित किया इस वर्ष 2010 को उड़नतश्तरी यानि समीरलाल  

सतत जारी वैचारिक कार्यक्रम

स्वर्गीय हीरालाल गुप्त स्मृति सम्मान
श्री महेश महेदेल
वरिष्ठ पत्रकार ,स्वतंत्र-मत,जबलपुर
_________________________________________
सव्यसाची प्रमिला देवी बिल्लोरे स्मृति सम्मान 2010
ओम कोहली ,संपादक ,डीज़ि-केबल, जबलपुर
___________________

लिमटि खरे,पत्रकार नई दिल्ली
कृष्ण कुमार खरे ,वरिष्ठ पत्रकार,जबलपुर
__________________
हिन्दी के श्रेष्ठ ब्लागर : समीरलाल,कनाडा ,
_________________________

विमोचन :-

श्री सतीश शर्मा की कृति “दिखावा खत्म : मंहगाई खत्म ” का


सतीश शर्मा जी


कार्यक्रम स्थल एवम समय :- 

भातखण्डे संगीत महाविद्यालय, मदन महल स्टेशन के पास , जबलपुर मध्यप्रदेश
शुक्रवार 24 दिसम्बर 2010 समय शाम 06:30 बजे से

3 comments:

महेन्द्र मिश्र said...

भाई समीर लाल जी और सभी को अनेकानेक हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई ....

महेन्द्र मिश्र said...

भाई समीर लाल जी को अनेकानेक हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई ....

दिनेश शर्मा said...

सुन्दर एवं सराहनीय प्रयास के लिए साधुवाद। लगे रहिए ; ईश्वर करें आपके सब सपने साकार हों।